उद्धव ठाकरे का सीएम योगी का तमाचा,दम है तो कोई यहां के उद्योग को बाहर ले जाकर दिखाएं

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के बीच फिल्म सिटी एवं बॉलीवुड को लेकर आपसी मतभेद चल रही है. दरअसल सीएम योगी आदित्यनाथ आज मुंबई के दौरे पर हैं और वहां नोएडा में बन रहे फिल्म सिटी के लिए कुछ इन्वेस्टरों से बैठक करने वाले हैं. उनके इस फैसले से उधव ठाकरे काफी हैरान परेशान नजर आ रहे हैं और सीएम योगी का बिना नाम लिए उन्होंने योगी आदित्यनाथ पर तंज कसा है .

उद्धव ठाकरे का तंज सीएम योगी पर

इंडियन मर्चेंट ऑफ चेंबरस ऑफ कॉमर्स में बात करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र एक मैग्नेटिक राज है. उद्योगपतियों को आज भी महाराष्ट्र आकर्षित करता है . अन्य राज्यों के उद्योगपति भी महाराष्ट्र में आकर उद्योग लगा सकते हैं , लेकिन अगर कोई यहां से उद्योग को ले जाने की बात करता है तो हम कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे . उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ का नाम लिए बिना कहा है कि दम है तो कोई यहां के उद्योग को बाहर ले जाकर दिखाएं.

सीएम योगी के खिलाफ मुंबई में पोस्टर

सीएम योगी मुंबई में जिस फाइव स्टार होटल में रुके हुए हैं, उसके ठीक बाहर मनसा वालों ने मराठी भाषा में पोस्टर लगा दिया है. आपको बताते हैं कि इन पोस्टरों में क्या लिखा गया है.
मनसे ने अपने पोस्टर में लिखा है कि
“दादा साहब फाल्के द्वारा बनाए गए फिल्म सिटी को यूपी ले जाने का मुंगेरीलाल का सपना है ”

पोस्टर में आगे यह भी लिखा है कि
“कहां राजा भोज कहां गंगू तेली कहां महाराष्ट्र का वैभव और कहां यूपी की दरिद्रता अपने राज्य की बेरोजगारी छुपाने के लिए मुंबई के उद्योग को यूपी ले जाने आया है ठग”

संजय राउत का सीएम योगी पर निशाना

शिवसेना नेता संजय राउत ने सीएम योगी के बारे में कहा है कि योगी आदित्यनाथ मुंबई के फाइव स्टार होटल में अक्षय कुमार के साथ बैठे हैं शायद अक्षय जी उनके लिए आम की टोकरी लेकर गए होंगे . मुंबई की फिल्म सिटी को कोई यहां से ले जाने की बात अगर करता है तो पहले योगी जी बताएं कि नोएडा फिल्म सिटी की अभी क्या हालत है.

एनसीपी नेता: मुंबई से बॉलीवुड को कोई खत्म नहीं कर सकता

एनसीपी नेता और मंत्री नवाब मलिक ने कहा है कि योगी यूपी में बॉलीवुड जैसी फिल्म सिटी बनाने की बात कर रहे हैं तो , अच्छी बात है क्योंकि कंपटीशन करना अच्छी बात है. लेकिन यह समझ लेना कि 100 साल में मुंबई को मिला बॉलीवुड का दर्जा खत्म हो जाएगा और लोग पूरी तरह से अन्य राज्यों में चले जाएंगे तो बॉलीवुड के दर्जे को मुंबई से कोई खत्म नहीं कर सकता.


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •